आखिर क्यू आया था निलेश रघुवंशी खरगोन?

निलेश रघुवंशी, खरगोन का पूर्व विवादास्पद सहायक आयुक्त जिसने दलालो के साथ साठगांठ करके जुलाई में हुए छात्रावास अधिक्षको के स्थानान्तरण की सूची में...

जिनके तीन साल नहीं हुए, उनके भी स्थानांतरण कर दिए!

आजाक विभाग, खरगोन द्वारा दिनान्क 12.07.17 को जारी की गई छात्रावास अधिक्षको के स्थानान्तरण की सूची में स्थानान्तरण करने में भारी गड़बड़िया की गई...

एक अधीक्षक को विकलांगता का लाभ, दूसरे को ठेंगा !

प्री मैटिक आदिवासी बालक छात्रावास, नान्द्रा में पदस्थ अधीक्षक संतोष चैहान को पचास फीसदी विकलांग होने के बावजूद सीनियर अजा बालक छात्रावास करही में...

सहायक आयुक्त ने रख लिए तीन अधीक्षक अपने पास!

121 अघीक्षकों की सूची में सहायक आयुक्त कार्यालय खरगोन द्वारा तीन अधीक्षकों को स्थानातंरित तो किया गया, लेकिन अन्य छात्रावास का आवंटन न करते...

एक अधीक्षक का एक महीनें में दो बार स्थानांतरण आदेश !

केसी वर्मा, सहायक शिक्षक, शासकीय प्राथमिक विध्यालय, बाजारखोदरा को जून 2017 में आदिवासी बालक छात्रावास, बामंदी में बगैर प्रभारी मंत्री के अनुमोदन के पदस्थ...

सहायक आयुक्त निलेश रघुवंशी का एक और कारनामा, एक होस्टल में दो अधिक्षक!

खरगोन जिले कॆ सहायक आयुक्त निलेश रघुवंशी ने कार्यालय को दलालो के हाथों में सौप दिया है! "दादा" टाइप दलाल. अब दलाल चला रहे हैं...

1.60 लाख देकर अधीक्षक ने पांच दिन के भीतर उसी छात्रावास में वापस आदेश...

खरगोन जिले का सहायक आयुक्त कार्यालय किराने की दुकान बन गया है, जहा कोई भी अधिक्षक पैसे लेकर जाये और मन माफ़िक आदेश करवा...

एफ़आईआर के शौकीन सहायक आयुक्त, बाबुओ पे मेहरबान

आजाक खरगोन के सहायक आयुक्त निलेश रघुवन्शी एफ़आईआर के बेहद शौकीन हैं. किसी भी व्यक्ति ने जरा सी गलती की नहीं कि सहायक आयुक्त...

भारी हेराफेरी, आदिवासी किसानों की ड्रीप अपात्रों को बांट दी !

खरगोन। खरगोन जिले में आदिवासी किसानों को सरकारी योजना के तहत वितरीत की गई ड्रीप किट में घपलेबाजी की परते एक-एक करके खुलती जा...

Stay connected

0फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

विशेष