9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस पर वोटिन्ग, मप्र सरकार की बड़ी साजिश

0
170

*म.प्रदेश सरकार द्वारा ‘9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस’ के दिन ही नगरीय निकाय की दिनांक  वोटिंग के लिए घोषित करना, क्या ये साजिस नहीं है ? क्या ये विश्व आदिवासी दिवस को धूमिल करनें की साजिस नहीं है ? किसी अन्य घोषित दिवसों पर ये सरकार इस प्रकार के निर्णय क्यों नहीं लेती*?

नगरीय चुनाव का ऐलान  9 अगस्त को वोटिंग करवाना पूर्णतः विश्व आदिवासी दिवस को रोकनें की साजिस है ! समस्त आदिवासी संगठन* मिलकर जिला स्तर पर ‘प्रैस कॉन्फ्रेंस’ के माध्यम से विरोध जताएंगे ! विश्व आदिवासी दिवस 9 अगस्त का दिन संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा 1994 से घोषित किया गया है !  म.प्रदेश सरकार ने  क्यों नगरीय चुनाव  9 अगस्त का दिन वोटिंग के लिए चुना , वेसे तो चुनाव रविवार के दिन ही होता है मगर प्रदेश सरकार ने जो निर्णय लिया वो पूर्णतः विश्व आदिवासी दिवस के खिलाफ है ! अब हमें जान जाना चाहिए की 9 अगस्त के दिन को ‘शासकीय अवकास’ घोषित नहीं कर सकती मध्यप्रदेश सरकार  ! ये केवल ड्रामा ही करती है !इस प्रकार से प्रदेश सरकार आदिवासियों के खिलाफ रहकर भेदभाव क्यों कर रही है ??? इस प्रकार की चाल ये लोग कब तक चलते रहेंगे और आदिवासी लोग कब तक अपमानित होते रहेंगे ,कब हमारे नेता भी समाज की बात संसद / विधानसभा में पुरजोर से रखेंगें !