रूस की रोबोट सेना से प्रयोग से संकट में पड़ रहा पूरी पृथ्वी का जीवन!

आजकल मानव ने इतनी उन्नति कर ली है कि वह प्रकृति को भी चुनौती दे रहा है। कुदरत की दी हुई वस्तुओं पर उसने एकाधिकार जमा लिया है। जिस मानव ने विभिन्न तरह के यंत्रों को विकसित किया आज वही यंत्र उसके पैर पर कुल्हाड़ी की तरह पड़ रहे हैं। आज जिस तरह से विभिन्न तरह के उद्योगों में रोबोट का प्रयोग हो रहा है उससे मानव की परेशानियां और बढ़ गई हैं। तकनीक के दौर में हर क्षेत्र में रोबोट का दखल बढ़ रहा है। अभी तक तो इनका प्रयोग सिर्फ उद्योगों और बड़ी-बड़ी कंपनियों में होता था, लेकिन अब रोबोट सेना का हिस्सा भी बनने लगे हैं। इसमें रूस ने अपनी उपस्थिति भी दर्ज करा दी है। रूस ने किलर रोबोट आर्मी बनाने का दावा किया है।

युद्ध के वक्त ये काफी मददगार साबित होंगे। इन सभी रोबोट में ड्रोन तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। कृत्रिम बौद्धिकता से नियंत्रित ड्राइवरलेस टैंक भी इस सेना में शामिल होंगे। इससे रूस की सैन्य क्षमता में कई गुना वृद्धि हो जाएगी। ये रोबोट इतने आधुनिक हैं कि सेना का उपयोग किए बिना इनको युद्ध क्षेत्र में उतारा जा सकता है। रूस के इस कदम का विरोध अलग-अलग संगठन और वैज्ञानिक समुदाय कर रहे हैं। ऐसे प्रयासों का विरोध भी होना चाहिए क्योंकि एक तरफ विश्व बिरादरी निशस्त्रीकरण की बात कर रही है तो वहीं कुछ देश हथियारों का जखीरा बढ़ाने में लगे हैं। ऐसे प्रयोग से पूरी पृथ्वी का जीवन संकट में पड़ रहा है।

newsadmin

Read Previous

1500 रुपए में यहां खुलवाएं खाता, बैंक FD से ज्यादा मिलेगा ब्याज